Hindi vyakaran

Shabd rachana ke tatva 'Upsarg'वे शब्दांश, जो किसी शब्द के पहले जुड़कर उस शब्द के अर्थ में विशेषता उत्पन्न कर देते हैं या उसके अर्थ को बदल देते हैं, 'उपसर्ग' कहलाते हैं। उपसर्गों का प्रयोग स्वतंत्र रूप से नहीं होता, वे किसी शब्द के पूर्व प्रयोग किए जाते हैं; जैसे सम्भव, संहार, संचय में 'सम्' उपसर्ग है। यह भव, हार, चय शब्दों से पहले जुड़ा हुआ है

उदाहरण -